220 किमी की गति से दौड़ रही थीं बाइक, तभी फेनाटी ने दबाया प्रतिद्वंद्वी की बाइक का ब्रेक, देखें VIDEO

बेचारे स्‍टीफानो अपने बाइक पर से नियंत्रण खो बैठे और काफी मशक्‍कत के बाद इसे नियंत्रण में कर पाए. फेनाटी को अपनी इस हरकत का खामियाजा भुगतना पड़ा और 23 लेप के बाद उन्‍हें रेस से अयोग्‍य घोषित कर दिया गया. एफआईएम मोटो ग्रांप्री पैनल ने उन्‍हें अगली दो रेस में भाग लेने से प्रतिबंधित कर दिया है.

Updated: September 11,2018

मोटो ग्रांप्री के दौरान पिछले कुछ वर्षों में काफी विवाद देखने को मिले हैं लेकिन रविवार को सेन मॉरिनो में मोटो-2 रेस के दौरान जिस तरह की घटना देखने को मिली, वह अपने आप में अनोखी और काफी हद तक शर्मसार करने वाली ही मानी जाएगी. करीब 220 किलोमीटर/प्रति घंटा की रफ्तार के बीच इस रेस में रोमानो फेनाटी और स्‍टीफानो मांजी के बीच करीबी मुकाबला हो रहा था. ऐसा लग रहा था कि फेनाटी और स्‍टीफानो में से कोई भी रेसर यह मुकाबला जीत सकता है. दिल की धड़कनों को रोक देने वाले इस मुकाबले के बीच फेनाटी ने ऐसी हरकत कर दी कि हर कोई हैरान रह गया. 220 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ते हुए उन्‍होंने अपने प्रतिद्वंद्वी स्‍टीफानो की बाइक का फ्रंटब्रेक दबा दिया.

उनकी यह हरकत पूरी तरह से खेल की भावना के विपरीत थी. बेचारे स्‍टीफानो बमुश्किल अपनी बाइक को नियंत्रण में कर पाए. फेनाटी को अपनी इस हरकत का खामियाजा भुगतना पड़ा और 23 लेप के बाद उन्‍हें रेस से अयोग्‍य घोषित कर दिया गया. एफआईएम मोटो ग्रांप्री पैनल ने उन्‍हें अगली दो रेस में भाग लेने से प्रतिबंधित कर दिया है. फेनाटी को उनकी टीम ने भी सजा दी है, उन्‍हें टीम से हटा दिया गया है और खेल भावना के विपरीत, गैरजिम्‍मेदाराना व्‍यवहार के लिए उनका करार समाप्‍त कर दिया है.

पैनल ने घोषणा की है कि फेनाटी स्‍पेन के अरागोन में 23 सितंबर और थाईलैंड में 7 अक्‍टूबर से होने वाली अगली दो रेस में हिस्‍सा नहीं ले सकेंगे क्‍योंकि उन्‍होंने इरादतन ऐसी हरकत की है जिसके कारण दूसरे राइडर की जान को खतरा हो सकता था. एफआईएम मोटो ग्रांप्री पैनल ने एक बयान जारी करके कहा, 'राइडर्स को जिम्‍मेदारीपूर्ण व्‍यवहार करना चाहिए उनके व्‍यवहार के कारण दूसरे प्रतियोगियों के लिए खतरा नहीं बनना चाहिए.' इस रेस के दौरान कुछ लैप्‍स पहले मांजी और फेनाटी एक-दूसरे के करीब आए थे जिसके बाद मांजी ने अपने प्रतिद्वंद्वी पर हल्‍की बढ़त बना ली थी.

हालांकि फेनाटी को अपनी गलती का अहसास हो गया है और उन्‍होंने सोमवार को अपनी इस हरकत के लिए माफी भी मांगी. उन्‍होंने एक बयान में कहा, मैं खेल जगत से माफी मांगता हूं. मैंने काफी गलत आचरण किया. मुझे ऐसा व्‍यवहार नहीं करना चाहिए था. मेरे इस व्‍यवहार के कारण मेरी और इस खेल की भयावह तस्‍वीर सामने आई. मैं इस तरह का शख्‍स नहीं हूं, मेरे करीब इस बात को अचछी तरह से जानते हैं. अपने करियर के दौरान मैं साफसुथरा और जिम्‍मेदार राइडर रहा हूं. मैंने इससे पहले कभी भी इस तरह से किसी भी जान को जोखिम में नहीं डाली.



Advertisement

Advertisement